लखनऊ: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोविड संक्रमण की रोकथाम व उपचार के लिए गठित सलाहकार समिति के साथ वर्चुअल बैठक की. जिसमें उन्होंने सलाहकार समिति को वर्तमान में कोविड संक्रमण की स्थिति और भविष्य की चुनौतियों के लिहाज से इसके प्रभावी नियंत्रण,बचाव व उपचार की कार्ययोजना व रणनीति बनाने के निर्देश दिए.

उन्होंने कहा कि सलाहकार समिति कोविड-19 के सम्बन्ध में प्रतिदिन बैठकें, कोविड ट्रीटमेण्ट, प्रोटोकॉल के साथ अन्य की रिपोर्ट व सुझाव की जानकारी स्वास्थ्य व चिकित्सा शिक्षा विभाग को दे. इसके अलावा इसकी एक प्रति मुख्यमंत्री कार्यालय को भी भेजी जाए. सलाहकार समिति सुझावों से प्रदेश सरकार सहित विभिन्न चिकित्सा संस्थानों व अस्पतालों को भी अवगत कराए. 

चिकित्सकों का सराहनीय योगदान
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि वर्तमान में कोरोना की दूसरी लहर के खिलाफ प्रभावी लड़ाई में चिकित्सकों और विशेषज्ञों का योगदान सराहनीय है. चिकित्सा विशेषज्ञ अपील, सन्देशों, पैनल डिस्कशन आदि के माध्यम से कोरोना के विरुद्ध संघर्ष में समाज को जागरूक करने का कार्य करें. साथ ही सभी को कोविड प्रोटोकॉल और गाइडलाइंस का पालन सुनिश्चित किए जाने के लिए भी प्रेरित करें, इससे कोरोना के विरुद्ध लड़ाई में बड़ी मदद मिलेगी.

केन्द्र व राज्य सरकार कोरोना के विरुद्ध लड़ाई में हर सम्भव प्रयास कर रही है
उन्होंने कहा कि कोरोना के खिलाफ अभियान के साथ जुड़ते हुए हम सभी कोविड ड्यूटी में लगे चिकित्सकों, स्वास्थ्य कर्मियों, पैरामेडिक्स, सफाई कमिर्यों सहित सभी फ्रण्टलाइन वर्कर्स और कोरोना योद्धाओं के मनोबल को बढ़ाएं. इससे समाज को संबल मिलेगा और सकारात्मक ऊर्जा का प्रसार होगा.

मीडिया कर्मी कोरोना को परास्त करने वालों की सफलता की कहानियां करें प्रसारित 
इसके अलावा उन्होंने कहा कि प्रिण्ट, इलेक्ट्रॉनिक और सोशल मीडिया में कोविड को परास्त करने वालों की सफलता की कहानियां प्रमुखता से प्रसारित-प्रचारित की जाएं. पूरे मनोबल और उपलब्ध संसाधनों के साथ कोविड-19 पर नियंत्रण व उपचार की व्यवस्थाएं की जा रही हैं. 

WATCH LIVE TV