मध्यप्रदेश: मौसम ने अचानक से करवट ली है. वहीं मध्यप्रदेश में भी मौसम में लगातार बदलाव हो रहा है. मौसम विभाग ने 11 मई तक प्रदेश के कई हिस्सों में तेज हवा के साथ हल्की बारिश होने का अनुमान जताया है. साथ ही शनिवार से तापमान में भी मामूली गिरावट होने की बात कही गई है.
मौसम वैज्ञानिक के अनुसार सेंट्रल एमपी के ऊपर ऊपरी हवाओं का चक्रवात बना हुआ है. इसके अलावा अरब सागर और बंगाल की खाड़ी से दो टर्फ लाइन भी बनी हुई है. इससे प्रदेश में नमी आ रही है जिसके चलते बादल बन रहे है. इसके चलते 11 मई तक राजधानी समेत प्रदेश के कई हिस्सों में गरज-चमक और तेज हवा के साथ हल्की बारिश हो सकती है. भोपाल जबलपुर ग्वालियर उज्जैन सागर समेत सभी संभाग के जिलों में हल्की बारिश होने की संभावना जता दी गई है.

बारिश का अनुमान
मध्य प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कई जगह बारिश दर्ज की गई.

मौसम विभाग के अनुसार
सतना में 10.4 एमएम
ग्वालियर में 5.2 एमएम
रीवा में 5.4 एमएम
उज्जैन और सागर में बूंदाबांदी का अनुमान लगाया गया है.

तापमान में गिरावट
मध्य प्रदेश में बादल छाने के कारण तापमान में मामूली गिरावट का भी अनुमान लगाया गया है. मौसम विभाग की माने तो शनिवार से तापमान में एक से दो डिग्री की गिरावट दर्ज की जा सकती है.
हालांकि इससे पहले गुरुवार को मध्यप्रदेश में अधिकतम तापमान रायसेन में 43.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था. कोरोना संकट के इस दौर में बदले मौसम के मिजाज़ ने लोगों को थोड़ी राहत जरूर देदी है.

ये भी पढ़ें : उज्जैन में मृतकों को मोक्ष के लिए करना होगा इंतजार, कर्म- काण्ड, पूजा-पाठ पूर्णतः प्रतिबन्धित!

WATCH LIVE TV