नई दिल्ली: पिछले दो सालों से कोरोना वायरस के चलते पूरी दुनिया प्रभावित हुई है. इस जानलेवा वायरस से खेल जगत पर भी खासा असर पड़ा है. क्रिकेट और बाकी सभी खेलों में भी मैदान के अंदर दर्शकों को आने की इजाजत नहीं थी. लेकिन पिछले कुछ समय से दर्शकों को मैदान में आने की छूट दी गई है. अब भारत की इंग्लैंड सीरीज से पहले भी एक अच्छी खबर सामने आई है. 

दर्शकों को मिल सकती है इजाजत 

ब्रिटेन सरकार द्वारा कोविड-19 को लेकर लोगों के इकट्ठा होने से जुड़े सभी तरह प्रतिबंधों को हटाने की घोषणा के बाद भारत और इंग्लैंड के बीच आगामी टेस्ट सीरीज के दौरान स्टेडियम में क्षमता के मुताबिक दर्शक मौजूद रह सकते हैं.

खत्म होंगे सभी प्रतिबंध

ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने सोमवार को पुष्टि की कि कोविड-19 लॉकडाउन से जुड़े सभी प्रतिबंध 19 जुलाई को समाप्त हो जाऐंगे. इसमें चेहरे पर मास्क लगाने के साथ अंदर तथा बाहर (इनडोर तथा आउटडोर) और खेल आयोजनों में दर्शकों की सीमा भी शामिल है. स्काई स्पोर्ट्स के मुताबिक जॉनसन ने कहा, ‘हम घर के अंदर और बाहर बैठक की संख्या पर लागू सभी कानूनी सीमाएं हटा देंगे.’ 

उन्होंने कहा, ‘हम नाइटक्लब सहित सभी व्यवसायों को फिर से खोलने की अनुमति देंगे. हम ‘केयर होम’ लिए आगंतुकों की संख्या के साथ संगीत समारोहों, थिएटरों और खेल आयोजनों में भाग लेने वाले लोगों की संख्या की सीमा हटा देंगे.’ भारत और इंग्लैंड के बीच पांच टेस्ट मैचों की सीरीज चार अगस्त से नॉटिंघम में शुरू हो रही है. भारतीय खिलाड़ी फिलहाल ब्रेक पर हैं और 14 जुलाई को फिर से एक साथ इकट्ठा होंगे. भारत और न्यूजीलैंड के बीच विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल पिछले महीने साउथैम्पटन में सीमित दर्शकों की मौजूदगी में खेला गया था. इसमें उनकी मौजूदगी की ऊपरी सीमा 4,000 थी.