News in Brief

Commonwealth Games 2022: भारत के महान टेबल टेनिस खिलाड़ी अचंता शरत कमल ने उम्र को धता बताते हुए बेहतरीन प्रदर्शन करके कॉमनवेल्थ गेम्स की मेंस सिंगल्स इवेंट के फाइनल में प्रवेश कर लिया और मिक्सड इवेंट में श्रीजा अकुला के साथ स्वर्ण पदक जीता. भारत का कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में ये कुल 18वां गोल्ड मेडल है. 

फाइनल में किया कमाल 

अचंता शरत कमल और श्रीजा अकुल की जोड़ी ने मलेशिया के जावेन चुंग और कारेन लाइने को 11-4, 9-11, 11-5, 11-6 से हराकर पीला तमगा जीता. इससे पहले पुरूष एकल सेमीफाइनल में पिछली बार गोल्ड कोस्ट में कांस्य पदक जीतने वाले 40 वर्ष के शरत कमल ने मेजबान देश के पॉल ड्रिंकहाल को 11-8, 11-8, 8-11, 11-7, 9-11, 11-8 से हराया.

मेडल किया पक्का 

फाइनल में पहुंचने के साथ ही उनका कम से कम रजत पदक पक्का हो गया, जिससे कॉमनवेल्थ खेलों में उनके 12 पदक हो गए हैं. वहीं, भारत के जी साथियान सेमीफाइनल में इंग्लैंड के लियाम पिचफोर्ड से 5-11, 11-4, 8-11, 9-11, 9-11 से हार गए. अब वह कांस्य पदक के लिए पॉल ड्रिंकहाल से खेलेंगे. वह 2006 में मेलबर्न खेलों में फाइनल में पहुंचे थे और स्वर्ण पदक जीता था. 

भारत को दिलाया था सिल्वर 

इससे पहले शरत कमल और जी साथियान ने पुरूष युगल स्पर्धा में रजत पदक जीता जबकि श्रीजा अकुला महिला एकल में कांस्य पदक से चूक गई . शरत कमल और साथियान को इंग्लैंड के पॉल ड्रिंकहाल और लियाम पिचफोर्ड ने बेहद रोमांचक मुकाबले में 3-2 (8 -11, 11-8, 11-3, 7-11, 11-4) से हराकर स्वर्ण पदक जीता.

ये ख़बर आपने पढ़ी देश की नंबर 1 हिंदी वेबसाइट Zeenews.com/Hindi पर