नई दिल्ली. बढ़ते कोरोना वायरस संक्रमण को देखते हुए विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (University Grants Commission) ने देश भर के सभी विश्वविद्यालयों को मई में कोई भी ऑफलाइन परीक्षा नहीं आयोजित कराने को कहा है. परीक्षा को लेकर जारी अपने एक निर्देश में यूजीसी ने स्पष्ट किया है कि जिस तरह के हालात इस समय देश में हैं, उसे देखते हुए मई में परीक्षा नहीं ली जा सकती है. इससे छात्रों और  उनके परिजनों पर कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ जाएगा.

GATE 2021: गेट  2021 की काउंसलिंग प्रक्रिया स्थगित, जानें न्यू डेट

परीक्षाओं को लेकर जून में होगी समीक्षा बैठक
यूजीसी की तरफ से जारी नोटिस में कहा गया है कि परीक्षाओं को लेकर जून के पहले सप्ताह में एक बैठक बुलाई जाएगी. इस बैठक में जून में परीक्षाओं को आयोजित कराने को लेकर चर्चा की जाएगी. उसके बाद ऑनलाइन एग्जाम आयोजित किए जाएंगे. 

शिक्षा मंत्रालय पहले ही जारी कर चुका है आदेश
परीक्षाओं को आयोजित कराने को लेकर शिक्षा मंत्रालय सभी केंद्रीय वित्त पोषित संस्थानों जैसे, आईआईटी, एनआईटी, आईआईटी, केंद्रीय विश्वविद्यालयों आदि में मई में ऑफलाइन परीक्षा आयोजित नहीं कराने का आदेश पहले ही जारी कर चुका है. लेकिन अब यूजीसी के फैसले से स्थिति स्षप्ट हो गई है.

छात्रों के लिए जरूरी खबरः इस महीने हो सकती हैं 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं! एक जून की बैठक में सरकार ले सकती है बड़ा फैसला

आपको बता दें कि कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से कई राज्य और  केंद्रीय  विश्वविद्यालयों ने परीक्षा पहले ही स्थगित कर दी थी. लेकिन कुछ यूनिवर्सिटी ने ओपन बुक मैथेड सहित वैकल्पिक मोड में परीक्षा आयोजित करने का ऐलान किया है.  

WATCH LIVE TV