Jaipur : कांग्रेस नेता एवं सांगानेर विधानसभा के पूर्व प्रत्याशी पं. सुरेश मिश्रा ने दिल्ली और पंजाब की तर्ज पर राजस्थान में भी प्लाज्मा नि शुल्क देने की मांग की है. पं. मिश्रा ने बताया कि देश के अनेक राज्यों से राजस्थान (Rajasthan News) का शुल्क ज्यादा है. वर्तमान में 16500 रुपये लिये जा रहे है. जबकि अन्य राज्यों में या तो निशुल्क या नॉमिनल चार्ज पर प्लाज्मा (Plasma) दिया जा रहा है. यहां तक की कर्नाटक में प्लाज्मा डोनर्स को इंसेंटिव भी दिया जा रहा है.  

मिश्रा (Suresh Mishra) ने बताया कि कोविड के बढ़ने के साथ ही प्लाज्मा की डिमांड बहुत ज्यादा हो गई है. बढ़ते कैसेज के साथ ही शहर में प्लाज्मा को लेकर मरीजों को प्लाज्मा उपलब्धता की परेशानियों के साथ ब्लड बैंक में 16500 का शुल्क भी वसूला जा रहा है जो कि मरीजों के साथ अन्याय है. 

यह भी पढ़ें- बढ़ते Covid संक्रमण को लेकर हालात चिंताजनक, BJP प्रवक्ता Ramlal Sharma ने रखी यह मांग

पं. सुरेश मिश्रा ने मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) को पत्र लिखकर मांग की है कि राजस्थान में भी प्लाज्मा निशुल्क या न्यूनतम शुल्क पर उपलब्ध कराया जाए. पं. सुरेश मिश्रा ने बताया कि पंजाब और दिल्ली में प्लाज्मा मरीजों को निशुल्क दिया जा रहा है, महाराष्ट्र में शुल्क 5500 लिया जा रहा है जबकि राजस्थान में शुल्क 16500 लिया जा रहा है जो कि अनुचित है. मुख्यमंत्री जी ने जिस प्रकार कोविड जांच दरों में कमी की उसी तरह प्लाज्मा की दरों को निशुल्क या न्यूनतम दरों पर करने के निर्देश देने चाहिए. 

पं. सुरेश मिश्रा ने बताया कि वर्तमान में हमारी टीम प्लाज्मा डोनर, जयपुर के पास बडी संख्या में प्लाज्मा की मांग आ रही है और हम लोगो को अधिक से अधिक प्लाज्मा डोनर बनने के लिये प्रोत्साहित कर रहे हैं. इस बार की डिमांड पिछली बार से 20 गुना डिमांड बढी है. अतः आवश्यक है कि प्लाज्मा डोनेशन को ज्यादा से ज्यादा प्रमोट किया जाए. 

पं. सुरेश मिश्रा ने मांग की है कि डोनर्स को कर्नाटक की तर्ज पर इंसेंटिव भी दिया जाए, जिससे की कोविड से उबर चुके लोग प्लाज्मा डोनेशन के लिए प्रेरित हो, गौरतलब है कि कर्नाटक में प्लाज्मा डोनर्स को 5000 रुपये इंसेंटिव के तौर पर दिए जा रहे हैं.

यह भी पढ़ें- Covid प्रबंधन को लेकर BJP ने राजस्थान सरकार पर बोला हमला, कहा- CHC-PHC पर हो इलाज