News in Brief

Benefits of Hop shoots: अक्सर हम बाजार से हरी पत्तेदार सब्जियां 10-20 या ज्यादा से ज्यादा 40 रुपये के हिसाब से लेकर आते हैं. लोग अपनी पसंद के मुताबिक इनको खरीदकर लाते हैं. हरी सब्जियां पोषक तत्वों से भरपूर होती है. वैसे तो सब्जियों के दाम घटते बढ़ते रहते हैं, हमारे देश में तो वैसे भी सब्जियों की बढ़ती हुई कीमतों से लोग परेशान रहते हैं.

क्या आप जानते हैं कि दुनिया की सबसे महंगी सब्जी का क्या नाम है और ये कहां पाई जाती है? ये सब्जी इतनी महंगी होती है कि आप सब्जी की जगह सोना खरीदना पसंद करेंगे. आप जानना तो चाह रहे होंगे इस सब्जी का नाम, इस सब्जी का नाम है हॉप शूट (Hop Shoots). तो चलिए जानते हैं इस सब्जी की खासियतों के बारे में विस्तार से… 

दुनिया की सबसे महंगी सब्जी- कीमत- 1000 यूरो प्रतिकिलो
हॉप शूट दुनिया की सबसे महंगी सब्जी है. महंगी सब्जी है तो जाहिर है इसमें गुण भी बहुत होंगे. आमतौर पर विदेशों में इस सब्जी की कीमत 1000 यूरो प्रति किलो रखी है, अलग-अलग देशों में इसकी कीमत अलग-अलग है. अगर हम भारत की बात करें तो यहां पर इसकी कीमत 1 हजार यूरो के हिसाब से करीब 80 हजार रुपये प्रति किलो से लेकर एक लाख रुपये तक होगी.

खरबूजा खरीदते समय बस इन बातों का रखें ध्यान, गुड़ से भी मीठा निकलेगा स्वाद

‘हॉप शूट्स’ फूल जैसा होता है, कहते हैं हॉप कोन्स

इस सब्जी का नाम है ‘हॉप शूट्स’ और इसका जो फूल होता है, उसे ‘हॉप कोन्स’ कहा जाता है. दरअसल, इसके फूल का इस्तेमाल बीयर बनाने में किया जाता है जबकि बाकी टहनियों को खाने के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है. महंगी होने की वजह से ऐसा कहा जाता है कि हॉप शूट्स खाने के लिए बैंक से लोन लेना पड़ सकता है.

जब इस सब्जी की कीमत इतनी है तो जाहिर है कि ये इसके गुणों के कारण होगी. इस सब्जी में कई चमत्कारी गुण हैं. जिसके सेवन मात्र से ही कई बीमारियां दूर हो सकती हैं. 

जड़ी-बूटी के तौर पर होता है इस्तेमाल
हॉप में कई तरह की एंटीबॉयटिक की प्रॉप्रटी पाई जाती है. इसी के चलते इसका इस्तेमाल जड़ी-बूटी के तौर पर भी किया जाता है. दांत के दर्द में यह काफी कारगर होता है. बीयर बनाने के लिए भी इसका इस्तेमाल किया जाता है. न्यूट्रीशन्ल गुणों से भरपूर इस सब्जी का प्रयोग कैंसर और टीबी जैसी गंभीर बीमारियों की दवाएं तैयार करने में भी किया जाता है

हॉप शूट्स’ को कच्चा भी खाते हैं, बनता है अचार
लोग ‘हॉप शूट्स’ को कच्चा भी खाते हैं हालांकि यह काफी कड़वा होता है. इसकी जो टहनियों होती हैं उसका इस्तेमाल सलाद के तौर पर किया जाता है. इसका फूल स्वाद में काफी तीखा होता है. इसका अचार भी बनाया जा सकता है, जो खाने में काफी स्वादिष्ट और फायदेमंद होता है.

सदियों पहले हो गई थी औषधीय गुणों की पहचान, लगाया गया था सब्जी पर टैक्स

हॉप शूट्स के औषधीय गुणों की पहचान सदियों पहले हो गई थी. बताया जाता है कि इसकी खेती आज के समय से नहीं बल्कि सन 1700 के समय से चली आ रही है. ब्रीटेन और जमर्नी जैसे यूरोपियन देशों (European Countries) में इसकी खेती सबसे ज्यादा होती है. उस समय इंग्लैंड में इसकी खेती ज्यादा होती थी, जिसके बाद से अन्य देशों ने भी इसके गुणों और फायदों को जानकर इसकी खेती शुरू कर दी थी. इसकी खूबियों को देखते हुए 18वीं सदी की शुरुआत में इंग्लैंड में इस पर टैक्स भी लगाया गया था.

छोटे-छोटे काले बीजों की तरह दिखने वाले ‘फालसे’ में हैं जादुई गुण, इस Summer फ्रूट से बढ़ेगी इम्युनिटी

भारत में इसी तरह की सब्जी पाई जाती है-गुच्छी
हॉप की तरह ही भारत में शिमला के जंगलों में एक सब्जी पाई जाती है जिसका नाम है गुच्छी. ये सब्जी भी औषधीय गुणों से भरपूर होती है. इसलिए भारत में इसकी कीमत 30 से 40 हजार रुपये प्रति के आसपास होती है.

भारत में नहीं होती इसकी खेती
भारत में इसकी खेती नहीं होती है. कुछ समय पहले बिहार में इसकी खेती होने की अफवाहें सुर्खियों में थीं, लेकिन जांच में यह बात गलत साबित हुई. भारत में आप चाहकर भी इसे किसी दुकान या बाजार से नहीं ले सकते हैं. साइंस में इसे हुमुलस ल्यूपुलस (Humulus lupulus) के नाम से जाना जाता है. 

डिस्क्लेमर- इस लेख में दी गई सेहत से जुड़ी तमाम जानकारियों को सूचनात्मक उद्देश्य से लिखा गया है. इसे किसी बीमारी के इलाज या फिर चिकित्सा सलाह के तौर पर नहीं देखना चाहिए. यहां बताए गए टिप्स पूरी तरह से कारगर होंगे इसका हम कोई दावा नहीं करते हैं. यहां दिए गए किसी भी टिप्स या सुझाव को आजमाने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर लें.

10 किशमिश में छुपा है जवानी का राज, बस इस तरह से खाएं रोजाना

WATCH LIVE TV