Chatra: चतरा में प्रतिबंधित टीएसपीसी (TSPC) नक्सलियों के विरुद्ध पुलिस और सीआरपीएफ (CRPF) 22 बटालियन की संयुक्त टीम को बड़ी कामयाबी मिली है. जिले के टंडवा थाना क्षेत्र अंतर्गत कोयलांचल में बड़ी घटनाओं को अंजाम देकर आतंक का पर्याय बन चुके एरिया कमांडर जगरनाथ उर्फ आजाद व दिलीप उर्फ चट्टान समेत चार नक्सलियों को पुलिस ने हथियार व कारतूस के साथ गिरफ्तार कर लिया है.  

इस मामले की जानकारी देते हुए एसपी ऋषभ झा ने बताया कि गुप्त सूचना के आधार पर एएसपी अभियान निगम प्रसाद के नेतृत्व में गठित विशेष टीम ने टंडवा थाना क्षेत्र के गोंदा पहाड़ी और कुंदा थाना क्षेत्र के अलग-अलग स्थानों में छापामारी कर नक्सलियों को गिरफ्तार किया है. 

गिरफ्तार नक्सलियों के पास से पुलिस ने 5.56 एमएम का दो रेगुलर इंसास, 5.56 एमएम का 178 कारतूस, दो मैगजीन, एक देसी पिस्टल, एक देसी कट्टा, एक वायरलेस सेट, नक्सली रसीद, .315 बोर का 27 कारतूस, 9 एमएम का चार कारतूस व लेवी का छह हजार रुपये बरामद किये हैं. 

एसपी ऋषभ झा ने बताया कि इन नक्सलियों आम्रपाली और मगध कोल परियोजना में लेवी को लेकर कोल वाहनों को जला दिया था. उन्होने ये काम सुप्रीमो ब्रजेश गंझू, आक्रमण, भीखन व अन्य नक्सलियों के कहने पर किया था, ताकि इलाके में दहशत को बढ़ाया जा सके. 

ये भी पढ़ें: धीमी गति से चल रहे सड़क निर्माण के काम से परेशान, जान हथेली पर रखने को हैं मजबूर जनता

इस घटना के बाद से ही पुलिस लगातार नक्सलियों की धरपकड़ को ले अभियान चला रही थी. वहीं, अभियान के दौरान चारों नक्सली गिरफ्तार किए गए हैं. गिरफ्तार नक्सलियों ने घटना में अपनी संलिप्तता भी स्वीकार कर ली है.

(इनपुट: यादवेंद्र)