News in Brief

अहमदाबाद: देश भर की तरह पूरा गुजरात भी कोरोना वायरस (Gujarat Corona Crisis) की दूसरी लहर की चपेट में है. इसी बीच साणंद (Sanand) से एक चौंकाने वाली खबर सामने आई है. यहां कोरोना भगाने के लिए मध्य गुजरात स्थित एक मंदिर में महिलाएं बड़ी तादाद में धार्मिक कार्यक्रम के लिए सड़कों पर आ गईं. 

‘भयानक लापरवाही’

इस घटना से जुड़ा एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है. जिसमें कोविड प्रोटोकॉल (Covid Protocal) नियमों की धज्जियां उड़ती देखी जा सकती हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार इसमें दिख रहीं, महिलाएं तालुका के नवापुरा और निधार्ध गांव में पूजा के लिए एक साथ आई थीं.

कहा जा रहा है कि ये सभी महिलाएं बलियादेव मंदिर में एकत्र होने जा रही थीं. जानकारी के मुताबिक इस आयोजन में शामिल 24 महिलाओं को कोरोना गाइडलाइंस का पालन नहीं करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है.

कोरोना भगाने के लिए पूजा!

वीडियो में नजर आ रहा है कि सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों को ताक में रखकर महिलाएं सर पर कलश लिए एक साथ सड़क पर निकल पड़ी हैं. इस दौरान जमकर संगीत भी बजाया जा रहा है. 

दरअसल यहां पर 15 दिनों से कोरोना का एक भी केस नहीं सामने आया था इसके बाद श्रद्धालु मंदिर में जलाभिषेक के लिए पहुंची थीं. वहीं कहा ये भी जा रहा है कि कोरोना को भगाने के लिए गुजरात के साणंद में बडिया देव मंदिर पर जल चढ़ाने के लिए लोगों को कहा गया था. 

LIVE TV