नई दिल्ली: बीसीसीआई (BCCI) की सीनियर सेलेक्शन कमिटी ने शुक्रवार को इस साल जून में होने वाली आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल (ICC World Test Championship Final) के लिए भारत की टेस्ट टीम का ऐलान कर दिया है. इसी के साथ ही इंग्लैंड के खिलाफ 5 मैचों की टेस्ट सीरीज के लिए भी टेस्ट टीम चुनी गई है.  खिलाड़ियों की लिस्ट में एक बड़ा नाम नदारद था.

हार्दिक पांड्या की छुट्टी

आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल का फाइनल साउथैम्प्टन (Southampton) में 18 से 22 जून तक होगा और इसके बाद 4 अगस्त से 14 सितंबर के बीच 5 मैचों की टेस्ट सीरीज खेली जाएगी. भारत की 20 सदस्यीय टेस्ट टीम में स्टार ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा की वापसी हुई है. वहीं, हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) टीम में जगह बनाने में नाकाम रहे.

 

 

हैरान हुए क्रिकेट फैंस

भारतीय टेस्ट टीम में धाकड़ ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) को शामिल नहीं किया गया. जाहिर सी बात है इस खबर से कई क्रिकेट फैंस हैरान होंगे, लेकिन ऐसे कई वजह है जिसे बीसीसीआई (BCCI) की सीनियर सेलेक्शन कमिटी नजरअंदाज नहीं कर पाई.

हार्दिक को क्यों नहीं मिली टेस्ट टीम में जगह?

टीम इंडिया के सेलेक्टर्स ने ये मैसेज देने की कोशिश की है कि हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) को सिर्फ एक बल्लेबाज के तौर पर टीम में जगह नहीं दी जा सकती. वो लंबे वक्त से फुट टाइम बॉलिंग नहीं कर पा रहे हैं.

IPL 2021 में हार्दिक फ्लॉप

मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) की तरफ आईपीएल 2021 (IPL 2021) में खेलते हुए हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) फ्लॉप साबित हुए. उन्होंने 7 पारियों में 8.66 की औसत और 118.18 की स्ट्राइक रेट से महज 52 रन बनाए. इस सीजन में उन्होंने एक बार भी बॉलिंग नहीं की. ऐसे वक्त में वो टीम इंडिया (Team India) के लिए बोझ बन सकते थे.

3 साल से टेस्ट से दूर हैं हार्दिक

हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) ने 3 साल से कोई टेस्ट मैच नहीं खेला है. आखिरी बार उन्होंने अगस्त 2018 में इंग्लैंड के खिलाफ टीम इंडिया (Team India) की सफेद जर्सी पहनी थी. मौजूदा भारतीय टीम में रविचंद्रन अश्विन, रवींद्र जडेजा, अक्षर पटेल, वॉशिंगटन सुंदर जैसे ऑलराउंडर मौजूद हैं यही वजह है सेलेक्टर्स ने हार्दिक को नहीं चुना

भारतीय टेस्ट टीम इस प्रकार है: रोहित शर्मा, शुभमन गिल, मयंक अग्रवाल, चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली (कप्तान), अजिंक्य रहाणे (उप-कप्तान), हनुमा विहारी, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), रविचंद्रन अश्विन, रवींद्र जडेजा, अक्षर पटेल, वॉशिंगटन सुंदर, जसप्रीत बुमराह, ईशांत शर्मा, मोहम्मद शमी, मोहम्मद सिराज, शार्दुल ठाकुर, उमेश यादव, केएल राहुल (फिटनेस क्लीयरेंस के अधीन), ऋद्धिमान साहा (विकेटकीपर, फिटनेस क्लीयरेंस के अधीन).

स्टैंडबाय खिलाड़ी: अभिमन्यु ईश्वरन, प्रसिद्ध कृष्णा, अवेश खान, अर्जन नागवासवाला.