हमीरपुर: उत्तर प्रदेश के हमीरपुर जिले में यमुना की जल धारा में एक साथ दर्जन भर शवों को उतराते देखे गए. कानपुर-सागर मार्ग पर यमुना नदी पुल के ऊपर से गुजरने वाले राहगीरों ने यह नजारा देखकर पुलिस को सूचना दी. कुछ शव कफन में लिपटे थे, कुछ ऐसे ही थे. वहीं एक अधजला शव भी मिला है. 

UP में नेताओं पर टूटा कोरोना का कहर, संक्रमण से 17वीं विधानसभा के 12 सदस्यों की मौत हुई

शवों के कोरोना संक्रमित होने की आशंका
सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस भी नदी में एक साथ इतने शवों को उतराता देख हैरान रह गई. पुलिस का कहना है कि इन शवों का दाह संस्कार करने की बजाए नदी में बहा दिया गया है. कानपुर और हमीरपुर जिले से इनका जल प्रवाह किया गया है. इन शवों के कोरोना संक्रमित होने की आशंका जताई जा रही है.

UP Board Exam 2021: 10वीं-12वीं और यूनिवर्सिटी एग्जाम पर जल्द आ सकता है अंतिम निर्णय

एएसपी अनूप कुमार सिंह का कहना है कि यमुना नदी का उत्तरी किनारा कानपुर में लगता है और दक्षिणी किनारा हमीरपुर में लगता है. दोनों जिलों की सीमा रेखा के रूप में यह नदी बहती है. प्रभारी निरीक्षक को मौके पर भेजा गया तो पता चला कि कानपुर आउटर की ओर से एक ट्रैक्टर पर दो शवों को लाकर नदी में प्रवाहित किया गया.

UP Weather Update: जारी रहेगी मौसम की उठापटक, धूल भरी आंधी चलने के साथ पड़ेंगी बौछारें

शवों को जलाने की बजाए नदी में बहा रहे
उन्होंने बताया कि एक अधजला शव कानपुर देहात की ओर तट पर पड़ा मिला है. इस घटना को लेकर स्थानीय अधिकारियों को कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि यमुना नदी को कानपुर और हमीरपुर जिले के लोग मोक्षदायिनी कालिंदी के रूप में मानते हैं. मत्यु होने पर शवों को जलाने की बजाए यमुना में जल प्रवाहित किए जाने की पुरानी परंपरा है.

रमजान महीने के आखिरी जुमे की नमाज आज, एडवाइजरी जारी, घर में नमाज अदा करने की अपील

ग्रामीण इलाकों में कोरोना से हो रही मौतें
इन दोनों जिलों में इक्का-दुक्का शव तो यमुना नदी में हमेशा देखे जाते रहे हैं. लेकिन कोरोना काल में कुछ ज्यादा ही शव नदी में बहाए जा रहे हैं. इससे यह अंदाजा लगाया जा रहा है कि ग्रामीण इलाकों में बड़ी संख्या में कोरोना संक्रमण से लोगों की मौत हो रही है. शहरों में तो फिर भी कोरोना टेस्टिंग और चिकित्सीय सुविधाएं उपलब्ध हैं. ग्रामीण इलाकों में टेस्टिंग की कोई व्यवस्था नहीं है और चिकित्सा व्यवस्था पहले से ही नदारद है.

WATCH LIVE TV